Saturday, June 2, 2012

इंदौर@जून, 2012

3 जून,रविवार
निरभ्र आसमान
चौथे तल्ले का
सबसे ऊपर का फ्लेट,
दिन के करीब ग्यारह।
नाश्ते के बाद
बंद पंखे के नीचे
पलंग पर
चादर तान
घंटे भर की नींद निकाल,
बस अभी-अभी उठा हूँ.....
ये मौसम-ए इंदौर है,
ठेठ नवतपा में। 

19 comments:

  1. चलिए नींद तो आ गयी ... ये अच्छी बात है ...

    ReplyDelete
  2. यह भी ठीक है। कुछ न लिखने से बहुत ठीक है। मौसम का समाचार ही बताया जाय। आजकल एक सीरीयल देखने लगा हूँ..न बोले तुम न मैने कुछ कहा। मस्त सीरीयल है। आप भी देखते होंगे। इंदैर का राजबाड़ा दिखाता है। मैं रहा हूँ इंदौर में दो-चार दिन। घूमा हूँ वह छहमुहानी वाला राजबाड़ा।कमाल की जगह हैं। सिंखजी मस्त मिलती हैं वहाँ। खाने पीने की चीजें बढ़िया मिलती है। लोग भी बड़े शरीफ हैं। राह में भटकता था तो बड़े प्रेम से समझाते थे। जितनी बार पूछो उतनी बार समझाते थे। पान खाने के बाद चूना मांगता था तो हंसते थे। पूछते थे..बनारस से आये हैं क्या ?बनारस वाले तो एक से अधिक बार पूछो तो झल्ला जाते हैं..का मालिक? बतइली न..! कपार मत चाटा..!! जा इहाँ से। मौसम यहाँ का भी बहुत गरम है। आप चौथी मंजिल में केवल एक पंखा चलाकर सो पा रहे हैं ! यहाँ तो हम उबल जायेंगे।

    ReplyDelete
    Replies
    1. एक पंखा चलाये बिना भी सो पा रहे हैं, वो भी जून में....तभी तो मौसम का हाल सुनाने की सूझी। पहले ही से झुलसते दिल्ली बनारस वालों को जलाने के लिए...सही कह रहे हैं, उधर जितना मौसम गरम रहता है उतना ही लोगों का भेजा भी!!

      Delete
  3. नवतपा तो ख़त्म हो गया. लगता है इस बार आपके यहाँ ज्यादा नहीं तपा.

    ReplyDelete
  4. वाह! मौसम ए इन्दौर........क्या बात है ....

    ReplyDelete
  5. yaha hyderabad mein to garmi ne chakke chhuta rakhe hain

    ReplyDelete
  6. Teasing me? Its burning in Delhi.

    ReplyDelete
  7. Replies
    1. comment curt and sugar free too!

      Delete
  8. देख लीजिए त्यागी साहब, हम तो कमेन्ट करने भी तब आये हैं जब दिल्ली में बारिश हो ली| आशा है इंदौर में भी मौसम ठीक होगा अब|

    ReplyDelete
    Replies
    1. खुशामदीद, संजय भाई....अब तो हर तरफ बहार ही बहार है!

      Delete
    2. यहाँ तो वैसी ही गर्मी है।(:

      Delete
  9. निरभ्र आसमान
    चौथे तल्ले का
    सबसे ऊपर का फ्लेट........bahut accha varnan nind ke bhane ....kavita acchi nhi bahut acchi lagi sir....

    ReplyDelete
  10. Win Exciting and Cool Prizes Everyday @ www.2vin.com, Everyone can win by answering simple questions. Earn points for referring your friends and exchange your points for cool gifts.

    ReplyDelete
  11. सरकार-ए-आली, कहाँ हैं? अब तो नवशीता आने वाला है।
    सब कुशल की आशा, अपेक्षा लगाये बैठे हैं।

    ReplyDelete
  12. bahut din ho gaya sir ..kuchh likh nahi rahe hain ?

    ReplyDelete
  13. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन ब्लॉग बुलेटिन: कोई दूर से आवाज़ दे चले आओ मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete